शाहाबाद की रीतू का जलवा पंजाब में भी कायम

0
42

शाहाबाद  (सुरजीत विनायक): भारतीय महिला हॉकी टीम की पूर्व कप्तान रीतू रानी का जलवा आज भी कायम है। पिछले दिनों गुजरात में हुई राष्ट्रीय महिला हॉकी इंडिया सीनियर चैम्पियनशिप में पंजाब की टीम ने रजत पदक हासिल किया। जिसके लिए पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत सिंह मान ने विजेता टीम के खिलाडिय़ों को 3-3 लाख रूपये दिए। जिसमें शाहाबाद की रीतू रानी भी शामिल थी। गौरतलब है कि शाहाबाद की रीतू ने भारतीय हॉकी टीम को अनेक पदक दिलवाए है। रीतू रानी के पिता जयपाल सिंह ने बताया कि रीतू ने 7 वर्ष की आयु में ही हॉकी खेलना शुरू कर दिया था और छोटी उम्र में  ही उसका चयन भारतीय टीम में हुआ था। जयपाल सिंह ने बताया कि रीतू का विवाह पटियाला पंजाब के हर्ष कुमार के साथ हुआ है और अभी रीतू के पास एक 3 वर्षीय बेटी है। लेकिन फिर भी रीतू लगातार मैदान में अभ्यास करती है। उन्होंने बताया कि पटियाला में रीतू के नाम से उसके पति द्वारा हॉकी अकादमी भी खोली गई है। जहां छोटे बच्चों को नि:शुल्क हॉकी का प्रशिक्षण दिया जाता है। रीतू की प्रंशसा करते हुए हॉकी प्रमोटर विक्की सेठी, डा. प्रदीप गोयल, हैल्पर्स सोसायटी के प्रधान तिलकराज अग्रवाल ने कहा कि उन्होंने बचपन से रीतू को हॉकी खेलते देखा है और रीतू की हॉकी के प्रति लग्न के वह कायल है।