प्रदेश में धान की दोबारा रोपाई करने वाले किसानों को भी मिलेगा मुआवजा : पवन सैनी

0
12

बाबैन,26 जुलाई(रवि कुमार): भाजपा के प्रदेश महामंत्री व पूर्व विधायक पवन सैनी ने कहा कि राज्य सरकार की तरफ  से फसल का पूरी तरह नुकसान होने पर प्रति एकड़ 15 हजार रुपए का मुआवजा दिया जाएगा और इसके साथ ही धान की दोबारा रोपाई करने वाले किसानों को भी मुआवजा दिया जाएगा। पवन सैनी बाबैन क्षेत्र दर्जनों गंावों का दौरा करने के उपरांत गांव बिंट में किसानों की खराब हुई फसल का ज्याजा लेने के उपंरात पत्रकारों से बातचीत कर रहे थे। उन्होंने कहा कि किसानों के द्वारा दोबारा धान की फसल लगाने का अधिकारियों की टीमों द्वारा सर्वे और वेरिफिकेशन का कार्य तुरंत प्रभाव से शुरू कर दिया जाएगा और 31 जुलाई के आसपास इसकी रिपोर्ट तैयार कर ली जाएगी। इसके बाद धान की दोबारा रोपाई करने वाले किसानों को भी रिपोर्ट के आधार पर मुआवजा दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री मनोहर लाल के मार्ग निर्देशन में प्रदेश सरकार ने किसानों के हित में मेरी फसल-मेरा ब्यौरा मोबाइल एप्लिकेशन लॉन्च की है जिस पर किसान बाढ़ के पानी से फसलों के हुए नुकसान का पंजीकरण करवा सकते है। उन्होंने कहा कि जो भी किसान 31 जुलाई तक मेरी फसल मेरा ब्यौरा मोबाईल एप्लिकेशन के माध्यम से खराब हुई फसलों का पंजीकरण कराया उन किसानों की खराब फसलों का मुआवजा मिलेगा। पवन सैनी ने कहा कि 31 जुलाई 2023 तक कृषि योग्य भूमि का पंजीकरण करवाने वाले प्रत्येक किसान को सरकार 100 रुपए प्रति किसान प्रोत्साहन राशि के रूप में देगी। उन्होंने कहा कि मेरी फसल मेरा ब्यौरा पोर्टल पर 31 जुलाई 2023 से पहले कृषि योग्य भूमि का पंजीकरण होना जरूरी है। इस मौके पर भाजपा के मंडल प्रधान जस्सी हमीदपुर, देवेंद्र बिंट, रिंकू कश्यप, प्रदीप कुमार, विजय कुमार व अन्य गणमान्य व्यक्ति मौजूद रहे।